भोपाल शहर में मुस्लिम पर्सनल ला जागरूकता अभियान का लांचिंग कार्यक्रम

bpl launch program

२३ अप्रैल, भोपाल: – मुस्लिम पर्सनल ला जागरूकता अभियान के लांचिंग कार्यक्रम में आज भोपाल शहर में सभी मुस्लिम पार्टियों के धर्मगुरु और रहनुमा शामिल हुए जमात-ए-इस्लामी भोपाल  के जेरे  निगरानी इस कार्यक्रम में  इस कार्यक्रम में अभियान के राष्ट्रीय संयोजक श्री मोहम्मद जफर साहब, जमीयत उलमा मध्य प्रदेश के अध्यक्ष श्री मौलाना हाजी हारून साहब, सकलानी मस्जिद कमेटी के अध्यक्ष नूर उददीन सकलेनी,  मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड के मेंबर एवं राज नेता श्री आरिफ मसूद साहब ,नदवतुल उलूम ताजुल मसाजिद के उस्ताद श्री मौलाना शराफत  साहब, शिया धर्मगुरु रजी  हैदर रजी आदि शामिल हुए।
इस मौके पर जमात-ए-इस्लामी के प्रदेश अध्यक्ष श्री हामिद बैग  साहब ने कहा कि मुस्लिम पर्सनल ला जागरूकता अभियान के जरिए से हम मुसलमानों में पारिवारिक इस्लामिक कानून के प्रति अज्ञानता को दूर और उनके अंदर पारिवारिक सम्वेदनाओं को बढ़ाना चाहते हैं उन्होंने कहा कि इस अभियान के द्वारा समुदाय में एक बड़ा परिवर्तन आएगा।

इस अवसर पर आरिफ मसूद साहब ने कहा आज हमारी शरियत मे मदाखलत करने की कोशिश की जा रही हे हमे आपसी  झगडे मिटा कर  इत्तेहाद से रहना चाहिए।
आगे आरिफ मसूद नै कहा तीन तलाक के मसले को उठा कर हमारे शरियती कानून मे दखलअंदाजी  हम बर्दाश्त  नही करेगे। धार्मिक आजादी हमारा सवैधानिक अधिकार हे।

दिल्ली से पधारे अभियान के राष्ट्रीय संयोजक  मोलाना जाफर ने तीन तलाक के नाम पर मुस्लिम समुदाय को कटघरे में खड़ा करने वाले लोगों को इस्लामी शिक्षाओ से अवगत कराया जाना चाहिए ।ओर जो लोग तीन तलाक का सहारा लेकर महिलाओं का शोषण करते हैं उनका सामाजिक बहिष्कार किया जाना चाहिये ।
श्री जाफर ने मुस्लिम परसनल ला की जरूरत पर बोलते हुए कहा कि इससे पहले भी मुताबनना (लेपालक) बिल संसद में लाया गया था मगर मुस्लिम समुदाय के विरोध के चलते सरकार ने कहा कि हमारा बिल पास करने का कोई इरादा नहीं है ।
मौलाना जाफर ने मुस्लिम समुदाय में सुधार की जरूरतों पर बल दिया । ओर लोगों से अभियान से जुड़ कर सामाजिक बुराइयों के विरुद्ध एकजुट होने की अपील की ।
कार्यक्रम में सभी धर्म गुरुओ ने परसनल ला में दखलअंदाजी की सख्त मजममत की ।
मीडिया प्रभारी डॉ अजहर बेग ने बताया की आज के लांचिग कार्यक्रम के साथ जमाअते इस्लामी ने पूरे भोपाल  में अभियान का बिगुल फूंक दिया है । इसमें हम जन सभाओं, महिला सम्मेलनों, शिक्षा विद कानून विद संगोष्ठीयो, नुक्कड़ नाटक, गृह भेंट आदि के द्वारा समाज में जागरूकता लाने की कोशिश की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *